» Hal Shashti
Hal Shashti

Hal Shashti

Category: Festival
भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि को हल षष्ठी मनायी जाती है। धार्मिक मान्यता के अनुसार, बलराम जी का मुख्य शस्त्र हल और मूसल होने के कारण इन्हें हलधर भी कहा जाता है और इन्हीं के नाम पर इस पर्व को हलषष्ठी  भी कहा जाता है। हल षष्ठी के दिन धरती पर बिना हल चले पैदा होने वाले अन्न खाने का विशेष महत्व है और इस दिन गाय के दूध व दही का सेवन करना निषिद्ध माना जाता है। 

हलषष्ठी पर घर में या बाहर दीवार पर भैंस के गोबर से छठ माता का चित्र बनाते हैं। जिसके बाद भगवान गणेश और मां गौरा का पूजन किया जाता है। घर में ही तालाब बनाकर महिलाएं उसमें झरबेरी, पलाश और कांसी के पेड़ लगाती हैं। इसी स्थान पर बैठकर पूजन होता है। जिसमें हल षष्ठी की कथा सुनी जाती हैं।

हल षष्ठी का व्रत माता अपने पुत्रों की लम्बी आयु के लिए करती हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों में हलषष्ठी को कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है। इसे लह्ही छठ, हर छठ, हल छठ, पीन्नी छठ या खमर छठ भी कहा जाता है।

Hal Shashti Dates

Fairs Around The World
India

Shravan Jhula Mela is one of the major fair of Uttar Pradesh. The fair of Sravan Jhula is usua...

India

Matki Mela is organized on the last day of 40 day fast. People keep fast till they  immer...

India

Tarkulha Mela, Tarkulha, Gorakhpur. Tarkulha Devi, the local deity is closely associated with ...

India

This great ritual begins at midnight on Mahashivaratri, when naga bavas, or naked sages, seate...

India
Ambubachi Mela, also known as Ambubasi festival, is held annually during monsoon in the kama...
India

Kundri Mela held in Jharkhand is one of the very popular cattle fairs in the state. As a state...

India

The Rash Mela was the brainchild of a number of locals, said Mr Prabhash Dhibar, a 72-year-old...

Copyright © FestivalsZone. All Rights Reserved.