» Hariyali Teej a Festival of Nature (हरियाली तीज प्रकृति का उत्सव)

Hariyali Teej a Festival of Nature (हरियाली तीज प्रकृति का उत्सव)

Posted On: 12 Jul, 2013| Festival: HARIYALI TEEJ

हरियाली तीज के दिन स्त्रियां अपने हाथों पर तरह-तरह की मेंहदी लगाती हैं. वास्तव में, यह कोई धार्मिक त्योहार नहीं है बल्कि प्रकृति का उत्सव मनाने का दिन है.

हरियाली तीज के दिन स्त्रियां अपने हाथों पर तरह-तरह की मेंहदी लगाती हैं. वास्तव में, यह कोई धार्मिक त्योहार नहीं है बल्कि प्रकृति का उत्सव मनाने का दिन है.

उत्तर भारत में सावन के शुक्ल पक्ष की तृतीया के दिन हरियाली तीज का पर्व मनाया जाता है. इस मौसम में प्रकृति चारों तरफ हरियाली की चादर बिछा देती है.

प्रकृति के इस सुंदर नजारे को देखकर हर किसी का मन खिल उठता है. यही कारण है कि इस मौके पर मनाए जाने वाले इस त्योहार को ‘हरियाली तीज’ कहते हैं.

तीज पर लगाए जाते हैं झूले:

इस मौके पर जगह-जगह झूले लगाए जाते हैं. साथ ही, नृत्य-संगीत का आयोजन भी किया जाता है. इस पर्व की तैयारी वर्षा ऋतु के आगमन के साथ ही शुरू हो जाती है.

सावन के महीने में आसमान में काले बादल छाये होते हैं और वर्षा की बौछारें पड़ने लगती हैं. इस त्योहार के मौके पर स्त्रियां अपने हाथों में तरह-तरह की मेंहदी लगाती हैं.

वास्तव में, यह कोई धार्मिक त्योहार नहीं बल्कि महिलाओं का एक साथ मिलकर उत्सव मनाने का दिन है. इस दिन सभी स्त्रियां मिलकर बागों में झूले पर झूलती और कजरी गाती हैं.

सुहागन सुहागी पकड़कर सास के पांव छूती हैं और सुहागी के रूप में उन्हें कपड़े और पैसे देती हैं. अगर सास नहीं हैं तो जेठानी या किसी अन्य बुजुर्ग महिला को सुहागी दी जाती है.

हरियाली तीज के दिन कई स्थानों पर मेले लगते हैं और माता पार्वती की सवारी बड़े धूमधाम से निकाली जाती है.

World Trade Fair
India

The Jwalamukhi fair is also held twice a year during the Navratri of Chaitra and Assiy. The de...

India

GURU Gobind singh  was the tenth of the eleven sikh Gurus,He was a Warrior, Poet and Phil...

India

The Banganga Fair of Jaipur, Rajasthan takes place near a stream, approximately 11 km from the...

India

GThe Sheetla Mata Fair of Chaksu, Rajasthan is dedicated to Sheetla Mata, goddess of epidemic ...

United States


THE LONDON BOOK FAIR ANNOUNCES MOVE TO OLYMPIA IN 2015 AND LAUNCHES LONDON BOOK AND S...

India

The Rash Mela was the brainchild of a number of locals, said Mr Prabhash Dhibar, a 72-year-old...

India

Situated in Chandangaon, Shri Mahavirji Fair of Rajasthan takes place in the Hindu month of Ch...

Articles
Copyright © FestivalsZone. All Rights Reserved.